सुविचार

in poems

मुस्कुराती रात हो,
खिलखिलाता प्रात हो,
हर सुबह के सूर्य में,
कुछ विशेष बात हो।