शुभकामनाएं

in poems

प्रिय आकाश,
शुभकामनाएं

प्रकाश नवल,
आकाश नवल,
जीवन पथ का हर मार्ग नवल,
प्रतिपल परिवर्तित जीवन का,
हर गान नवल,
हर मान नवल,
गुंजित हो सभी दिशाओं सें,
वरदान नवल प्रतिदान नवल।

तुम्हारी मांँ